भाभी को खेल खेल में नंगा करके चोदा

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Dec 18, 2017.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    Joined:
    Aug 28, 2013
    Messages:
    138,653
    Likes Received:
    2,213
    //8coins.ru भाभी को खेल खेल में नंगा करके चोदा

    Bhabhi ko khel khel me nanga karke choda:

    loading...

    desi bhabhi

    हेल्लो दोस्तों मेरा नाम अनमोल है | मैं आज सेक्सी कहानी पढने वालो को के लिए अपनी कहानी लेकर आया हूँ | मैं अपनी कहानी शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ | मैं रहने वाला चेन्नई का हूँ | मेरी उम्र 23 साल है | मैं दिखने में गोरा हूँ और मेरी हाईट 6 फुट 4 इंच है | मेरी हाईट ज्यादा होने की वजह से मैं स्मार्ट दिखता हूँ | मुझे सेक्सी कहानी पढना पसंद है और मैं कभी कभी सेक्सी कहानी पढ़ लिया करता हूँ | मेरे घर में हम 3 लोग रहते हैं | मैं और मेरे बड़े भईया भाभी रहते हैं | मेरे मम्मी और पापा की एक हादसे में मौत हो गयी थी | तब मैं 7 साल का था | तब से मुझे मेरे भईया ने ही मुझे पढाया लिखाया | अब मेरे भईया ने शादी कर ली है और मेरी भाभी बहुत अच्छी है | वो मुझे बहुत प्यार करती है | मेरी भाभी मुझसे बहुत मजाक करती है और जब वो मजाक करती है तो मुझे अच्छा लगता है | दोस्तों जो मैं आज कहानी आप लोगो के सामने लेकर आया हूँ | ये मेरे और मेरी भाभी की सेक्स की कहानी है | अब मैं कहानी शुरू करता हूँ |

    ये कहानी अभी कुछ महीने पहले की है | उस दिन से मेरी जिन्दगी ही बदल गयी | मेरी भाभी का नाम गुडिया है और वो दिखने में किसी डॉल से कम नही लगती है | उनका चेहरा गोल है और उनके चेहरे पर हमेशा एक मुस्कान रहती है | जिसकी वजह से वो ज्यादा ही सुन्दर लगती है | उनका फिगर भी सेक्सी | | उनके बूब्स ज्यादा बड़े नही है | पर इतने बड़े है की वो ब्रा लगती है और उनकी गांड तो बहुत सेक्सी है | दोस्तों मेरा कहने का मतलब है की कुछ लडकियों की तरह उनकी गांड ज्यादा बड़ी नही है न ही जब वो चलती है तो उनकी गांड हिलाती है | मेरे भईया एक सरकारी कम्पनी में जॉब करते हैं जिसकी वजह से वो अक्सर बाहर जाया करते हैं | मैं और भाभी एक दुसरे से खुल कर बात करते हैं अगर उनको कुछ मुझसे कहना होता है तो वो शर्माती नही है | मुझे भी कुछ कहना होता है तो मैं उनसे बिना हिचकिचाहट के कह देता हूँ | एक दिन की बात है जब मैं और भाभी घर में थे | उस दिन मेरे भईया अपने ऑफिस से आये और भाभी से बोले की मुझे कुछ काम से बाहर जाना है तो जल्दी से कुछ खाने को बना दो | उस टाइम मैं और भाभी एक दुसरे से बात कर रहे थे |

    तब भाभी भईया के लिए खाना तैयार किया और भईया खाना खाने के बाद चले गए | फिर मैं और भाभी उस शाम एक मूवी आ रही थी और हम दोनों वो मूवी देखने लगे | उस मूवी में मैं और मेरी भाभी ने एक गेम देखा | उस गेम में वो लोग एक बोतल को घुमाते थे और जिसके सामने वो बोतल रूकती थी उससे कोई एक सावल करते | जो बोतल को घूमता था अगर वो उससे जो भी सवाल करता तो उसको उस सवाल के बारे में सच ही बताना होता | कुछ देर बाद वो मूवी ख़त्म हो गई |

    मुझे भूख लग रही थी तो मैंने भाभी से खाने के लिए कहा | भाभी ने दो प्लेट लगा दी और हमने साथ में बैठ कर खाना खाया | खाने खाने के बाद मैं सोने चला गया | कुछ देर बाद भाभी मेरे बेडरूम में आई और बोली अनमोल आओ हम भी वही गेम खेलते हैं | मैं मान गया और भाभी एक बोतल लेके आई और मैंने अपनी पढाई की टेबल को खीच कर आगे किया और उनके लिए एक कुर्सी डाली | भाभी बैठ गयी और पहले भाभी ने बोतल घुमाई पर वो बोतल किसी की तरफ नही रुकी | मेरी बारी आई मैंने बोतल घुमाई और बोतल मेरी तरफ ही रुक गयी | भाभी ने मुझसे पहला सवाल किया |

    भाभी - अनमोल तुम्हरी गर्लफ्रेंड है ?

    मैं - नही भाभी

    फिर भाभी ने बोतल घुमाई और फिर से वो मेरी तरफ ही रुक गयी |

    भाभी - अनमोल तेरी गर्लफ्रेंड पहले थी ?

    मैं - नही भाभी मेरी कोई आज तक गर्लफ्रेंड नही बनी |

    मैं समझ गया था की भाभी आज मुझसे मेरे बारे में सब जान लेंगी |

    फिर से भाभी ने बोतल घुमाई इस बार बोतल भाभी की तरफ रुक गयी और मैंने भाभी से उनका ही सवाल पूछ लिया | तब भाभी ने बताया की हाँ मेरा एक बॉयफ्रेंड था | जब मैं कॉलेज में पढ़ती थी उस टाइम | फिर मैंने बोतल घुमाई तो वो बोतल किसी की और नही रुकी | तब भाभी ने घुमाई तो वो मेरी तरफ ही रुक गयी | तब भाभी ने मुझसे पूछा तुमने कभी सेक्स किया है | मैंने कहा नही भाभी और भाभी ने फिर से बोतल घुमा दी | इस बार बोतल उनके सामने रुक गयी | मैंने उनसे पूछा तुमने शादी से पहले सेक्स किया है | वो बोली हाँ 2 बार अपने बॉयफ्रेंड के साथ | ये बात सुनकर मुझे जोर का झटका लगा | मैंने सोचा की जब बॉयफ्रेंड था तो सेक्स क्यूँ नही हुआ होगा | उसके बाद मैंने बोतल घुमाई और वो मेरी तरफ ही रुक गयी | इस बार भाभी ने मुझे अपना लंड दिखाने को कहा | मैंने अपनी पैंट निकाल दी | जब भाभी ने मेरे लंड को देखा तो मुझे उनके चेहरे पर एक ख़ुशी दिखी | तब मैं समझ गया की भाभी मुझसे अपनी चुदाई करना चाहती है इसलिए ये गेम खेल रही है |

    अगली बार मुझे चांस मिला तो मैंने उनके अपने बूब्स दिखाने को कहा | भाभी ने अपनी साड़ी हटाने के बाद अपना ब्लाउज और ब्रा खोल दी | दोस्तों मैं उनके बूब्स को देख कर पागल हो गया | उनके दूध एकदम गुलाबी थे और बहुत ही गोल |अगली बार फिर से मुझे मौका मिला और मैंने इस बार उनके दूध को मेरे मुंह में रखने को कहा | वो जब अपने एक दूध को मेरे मुंह में रख दिया तो मेरा लंड तुरंत खड़ा हो गया | अब इस तरह से धीरे धीरे मैंने भाभी को पूरा ही नंगा कर दिया | भाभी ने मुझे नंगा कर दिया | तब मैंने भाभी से कहा भाभी गेम बंद करो और कपडे पहन कर अपने रूम में जाओ | वो बोली की एक बार और खेलते हैं और भाभी ने बोतल घुमा दी | बोतल मेरे सामने रुक गयी और भाभी ने बोला अनमोल मुझे तुम्हारे लंड से चुदना है | अनमोल तुम चीटिंग नही कर सकते हो गेम के रूल के हिसाब से तुम हार रहे हो |

    मैं भी मान गया और भाभी को अपनी बाँहों में भर कर अपनी बेड पर लेटा दिया | मैं भाभी को अपनी बेड पर लेटा कर उनके गुलाबी जिस्म को अपनी जीभ से चाटने लगा | वो मेरे बिस्तर पर लेट कर जोर जोर से गर्म सांसे ले रही थी | मैं उनके पेट पर किस करते हुए ऊपर की और बढ़ता रहा | फिर उनकी गुलाबी होठो पर अपनी होठो को रख कर उनकी होठो को चूसने लगा | मैं उनकी मस्त रसीली होठो को चूसने लगा | वो मेरी होठो को चूस रही थी | मैं कुछ ही देर मे उनके होठो की सारी लिपस्टिक चूस डाली | मैं उनकी होठो को चूसने के बाद में उनके एक दूध को दबाते हुए मुंह में रख कर चूसने लगा | मैं उनके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने के साथ दुसरे वाले दूध के निप्पल को ऊँगली से दबा रहा था | मैं उनके बूब्स को दोनों हाथो में पकड़ कर जोर जोर से दबा रहा था | वो मस्त सेक्सी आवाजे कर रही थी | मैं उनके बूब्स को ऐसे ही कुछ देर तक चूसने के बाद नीचे आया और भाभी ने अपनी टांगो को खोल दिया | मैंने उनकी गुलाबी चूत में अपनी जीभ को घुसा दिया | मैं उनकी चूत में जीभ को घुसा दिया तो भाभी के मुंह से आ आ आ. ऊ ऊ ऊ ऊ. ह ह ह ह.. की सिसकियाँ निकल गयी | मैं उनकी चूत को ऐसे ही कुछ देर तक चूसता रहा | फिर मैंने अपने लंड को भाभी के हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे 6 इंच लम्बे लंड को पकड़ कर हिलाती हुई बिस्तर पर घुटनों के बल बैठ गयी | वो बैठ कर मेरे लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को अपने मुंह में रख कर ऐसे ही कुछ देर तक चूसती रही | तब मैंने उनके मुंह से अपने लंड को निकाल कर उनकी एक तांग को उठा कर उनकी चूत में लंड को घुसा दिया | वो बिस्तर पर उछल गयी और अपने बूब्स के निप्पल को कस कर घुमाने लगी | मैं उनकी चिकनी कमर को कपड कर उनकी चूत में जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करने लगा | वो ऊ ऊ ऊ.. आ आ आ.. ह ह ह ह.. उई उई उई. माँ माँ माँ. की सेक्सी आवाजे कर रही थी | मैं उनकी चूत में जोरदार धक्को के साथ उनको चोद रहा था | मैं उनकी चूत में ऐसे ही जोरदार धक्को को 15 मिनट तक मारता रहा जिससे उनकी चूत से पानी निकल गया | वो झड़ गयी पर मैं अभी भी चुदाई करने के लिए तैयार था | मैंने उनको घोड़ी बना दिया | फिर उनकी चूत में पीछे से लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ उनको चोदने लगा | मैं भाभी जोरदार धक्को के साथ उनको ऐसे ही चोद रहा था | वो सेक्सी आवाजे करती हुई चुद रही था | मैं 15 -18 मिनट की मस्त चुदाई के बाद झड़ गया |

    फिर मैं भाभी अपनी बाँहों में भर कर लेट गया | मैं उनको अपनी बाँहों में भर कर लेटा था और वो मेरे लंड को दुबारे चुदने के लिया तैयार कर रही थी | उस रात मैंने भाभी को दो बार चोदा था और वो मुझसे मस्त होकर चुदी थी | इसके बाद जब भईया घर नही होते थे तो भाभी मुझसे चुदती थी |

    ये थी मेरी कहानी मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी अगर आप लोगो को मेरी कहानी पंसद आई है तो मैं अगली कहानी के साथ आप लोगो की सेवा में जरुर हाज़िर हूँगा |

    धन्यवाद......
     
Loading...

Share This Page



ঝড়ের রাতে অফিস থেকা ফেরার চোদা খাওয়ামায়ের গুদ মারে কাকাதமிழ் காமவெறி கதைகள் ரயிலில் தூக்கத்தில்মা জানতো না আমি মার সাথে ফোনে কথা বলি খুব বড় পাছাஅத்தை முலைবাংলা কোকাতা চেছஎன் புண்டைகுள் சரக்கடித்த சுன்னிপা দিয়ে ডমিনেট সিসি করাঅসমিয়া বোৱাৰিৰ চুদাচুদিৰ কাহিনিதமிழ் காம கதை டைலர் ஓத்த சிறுமிTelugu sex story tammudiki banisaমা ও হিন্দু কাকার চোদাচুদির গল্প চটি মামির বর দূধமனைவி சுற்றுலா காமഅച്ഛൻ പൂർ കീറിদুই ভাবিকে একসাথে চুদার গল্পউহহহ আহহহ আহহহ চটিমামির ফোন সেক্স চটিकाकी ची पूच्ची मारलीதமிழ் நடிகை ராணி செக்ஸ்ভ্রা পেন্টি খুলে প্রেমের গল্পஆண் கற்பழிப்பு கதைகள்ഉറങ്ങിയ അമ്മയെ മകൻ കുണ്ണ കയറ്റി കളിಸೆಕ್ಸ ಕಿವಿರಾಜ್ ಕಥೆராணி லதா ஓல்கதைகள்बहिणीची आगूळ करताणी झवाझवीPakkinti aunty xxx Telugu Athan comSondori Bow Er Oditionஅமுதா காம கதை/threads/tamil-aunty-kamakathaikal-%E0%AE%B0%E0%AE%9C%E0%AF%80%E0%AE%A9%E0%AE%BE%E0%AE%B5%E0%AE%BF%E0%AE%A9%E0%AF%8D-%E0%AE%85%E0%AE%B0%E0%AE%BF%E0%AE%AA%E0%AF%8D%E0%AE%AA%E0%AF%86%E0%AE%9F%E0%AF%81%E0%AE%A4%E0%AF%8D%E0%AE%A4-%E0%AE%AA%E0%AF%81%E0%AE%A3%E0%AF%8D%E0%AE%9F%E0%AF%88.193527/বাপ বেডি চুদা চুদিఅమ్మ కొడుకుల దెంగులాట కథలుvani akka thoongum pothu kamakathaikalPudhu thirumanam kamam storyडरते डरते आँटी की गेंद मेरी चुदाई की कहानियांwww.ஓழ் முவிஸ்भावासोबत Xxx बाथरूम मध्ये काकू नागडीজেঠু পোদ চুদলোচাকরির আশায় চুদা খাওয়াছেলেদের নুনু মেয়েদের পাছায় তে দাও কানোதங்கை நித்யா காம கதைகள்কাকিমাকে চুদার গল্পমার ব্রার উপর দিয়ে দুধ টিপলাম চটিNokrani ki chut li storyचुदाई माँ को तैयार किया फिर मुझे भी तैयार किया मेरि मां ने हम दोनो के सुहागरात किबचपन में ही सगी बहन को चोदना चाहताமாலதி டிச்சர் காமகதைஎன் கணவனின் சம்மதத்துடன் என்னை கர்ப்பம் ஆக்கிய 1மாணவர்கள்বান্ধবিকে চুদে পোয়াতি %প্রেমিকাকে ও তার মাকে চোদা কথাधोखे में ससुर से चुद गईஅவள் பின்னால் கர்ப்பமானாள் காமக்கதைভোদা চুদা গল্প জুলি চটি গল্পচটি গল্প দাড়োয়াননাভি*চোষা*চটি*গল্পமுடங்கிய கணவரும் சுவாதியும்গুদ ধোন গল্পமும்பாய் ஸ்ஸ் ஸ்டோரீஸ் মায়ের পরোকিয়া চটিಸೆಕ್ಸ ಅಮ್ಮ ಭಾಗ 2 ಕಥೆবোন ঘুমাছে দাদা তার দুধ টিপলো চুদলো গল্পরসের মালের গলপ XXXজেরিনকে চোদার গল্পবাংলা চটি অন্ধকারে শাড়ি খুলে জোর করে ভাবির পাছা মারতে লাগলামবাংলা চটি সিনামার হিরোইনথদের চুদাআপুকে মালিশ করে চোদার গল্পছেলে মেয়ের সামনে বাবা মার চটিmast choti gand marun getali desi kahaniপ্ল্যান করে চুদিয়ে নিলাম বাংলা চটি গল্পபிச்சைகாரி இளம் புண்டை காம கதைbangla incest choti-একটি রাত,দুটি শরীরপাড়ার বৌদরা পুকুরে ঘাটে সান করতে গিয়ে গুদ দেখি পাড়ার দেয়ের সঙ্গে চুদা চুদির গল্পপাছার ফাক বড় করার উপাইঠোট চুদিফেসবুকে চ্যাট সেক্স চটি গল্পஇரயில் காமக் கதைகள்முடங்கிய கணவனுடன் சுவாதி/myhotzpic/threads/%E0%AE%A4%E0%AE%AE%E0%AE%BF%E0%AE%B4%E0%AF%8D-%E0%AE%95%E0%AE%BE%E0%AE%AE-%E0%AE%95%E0%AE%A4%E0%AF%88%E0%AE%95%E0%AE%B3%E0%AF%8D-%E0%AE%B5%E0%AF%87%E0%AE%B2%E0%AF%88%E0%AE%95%E0%AF%8D%E0%AE%95%E0%AE%BE%E0%AE%B0%E0%AE%BF%E0%AE%AF%E0%AE%BF%E0%AE%A9%E0%AF%8D-%E0%AE%9A%E0%AF%82%E0%AE%AA%E0%AF%8D%E0%AE%AA%E0%AE%B0%E0%AF%8D-%E0%AE%B5%E0%AF%87%E0%AE%B2%E0%AF%88-%E0%AE%95%E0%AE%BE%E0%AE%AE%E0%AE%95%E0%AF%8D%E0%AE%95%E0%AE%A4%E0%AF%88-%E0%AE%A4%E0%AE%AE%E0%AE%BF%E0%AE%B4%E0%AF%8D-%E0%AE%95%E0%AE%BE%E0%AE%AE-%E0%AE%95%E0%AE%A4%E0%AF%88%E0%AE%95%E0%AE%B3%E0%AF%8D.102664/